नगर में अच्छे चिकित्सकों की कमी के कारण युवती ने तोड़ा दम

0
38

डिबाइ(श्रीजी एक्सप्रेस)।  नगर के मौ0 सराय बैरूनी में एक युवती की अचानक तबियत खराब हो गयी और उसने कस्बा में अच्छे चिकित्सक न होने के अभाव मे दम तोड़ दिया।उक्त घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया।
जानकारी के अनुसार नगर के मौ0 सराय बैरूनी निवासी 20वर्षीय रिति पुत्री पप्पू अग्रवाल की अचानक तवियत खराब हो गयी और देखते ही देखते युवती ने अच्छे चिकित्सक के अभाव में दम तोड़ दिया।बताया जाता है कि युवती कस्बा स्थित एसएसडी कन्या डिग्री कालिज में बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है और कॉलेज से घर आने के बाद घर पर हाथ में कोई बस्तु लगने से ऊँगली में सूजन आ गई। परिजनों ने उपचार हेतु नगर के बंगाली डॉक्टर को दिखाया। दूसरे दिन तेज बुखार आने से रिति की तबियत और खराब हो गई। परिजनों ने युवती को नगर के एक अन्य चिकित्सक को भी दिखाया।चिकित्सक ने युवती को अलीगढ़ ले जाने की सलाह दी। परिजन युवती को लेकर अलीगढ़ के एक अस्पताल में पहुंचे और चिकित्सक ने उसे भर्ती कर लिया, जहां उपचार के दौरान युवती की मौत हो गयी,युवती की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा है। जैसे जैसे नगर वासियों को युवती की मौत की जानकारी हुई तो लोगो का ताता पप्पू अग्रवाल के घर पर सांत्वना देने को लग गया। परिजनों का आरोप है कि डिबाई में नगर में अच्छे डॉक्टरों का अभाव है।जिसके कारण मेरी बेटी की मौत हुई है।लोगों का कहना है कि क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवा का अभाव होने के कारण समय पर सही इलाज नहीं हो पा रहा है और बला टालते हुये मरीजों को अलीगढ़ व बुलन्दशहर रेफर कर दिया जाता है और जल्दबाजी में मरीज का पूर्ण रूपेण इलाज नहीं हो पाता, जिसके कारण सही समय पर इलाज नहीं होने के कारण अनेक मौत हो जाती है ,यहां पर कई चिकित्सकों की अपनी अपनी अलग अलग राय होंगी।सबसे बड़ा प्रश्न यह उठता है कि आखिर एक ही समय में अलग अलग रिपोर्ट आना चिकित्सकों की कार्य प्रणाली पर सबालिया निशान लगा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here