रूस का एकमात्र एयरक्राफ्ट कैरियर क्षतिग्रस्त

मॉस्को रूस का एकमात्र एयरक्राफ्ट कैरियर मरम्मत के दौरान उस वक्त क्षतिग्रस्त हो गया जब इस ढो रहा फ्लोटिंग डॉक डूबने लगा। इस दौरान इसके डेक से क्रेन टकरा गया। एडमिरल कुजनेत्सोव सीरिया में राष्ट्रपति बशर अल-असद के समर्थन में रूसी सैन्य अभियान की शुरुआत से ही सक्रिय रहा है और इस पर मौजूद विमान से विद्रोही सेनाओं पर हवाई हमला किया गया है। इसका मुरमानस्क के नजदीक कोला बे के बर्फीले पानी में दुनिया के सबसे बड़े फ्लोटिंग डॉक पर मरम्मत किया जा रहा था और इस जहाज को 2021 में फिर से काम पर लगाया जाना था। मुरमानस्क के गवर्नर मारिया कुवतुन ने कहा कि राहत कार्य शुरू कर दिया गया है और जब डॉक डूबने लगा तो 71 लोगों को बचाया गया। डॉक के डूबने से पहले युद्धपोत को सफलतापूर्वक वहां से हटा लिया गया है। जांचकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने इस संबंध में आपराधिक जांच शुरू की है जिसमें इस बात की पड़ताल की जाएगी कि कहीं सुरक्षा नियमों का तो उल्लंघन नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि इस घटना में एक व्यक्ति लापता है जबकि 4 का इलाज कराया जा रहा है। रूस के यूनाइटेड शिपबिल्डिंग कॉर्पोरेशन के प्रमुख अलेक्सी राखमानोव ने कहा कि जहाज का ढांचा और डेक क्षतिग्रस्त हुआ है। हालांकि, जहाज का महत्वपूर्ण हिस्सा प्रभावित नहीं हुआ है। शिपबिल्डिंग फैक्ट्री के प्रवक्ता ने कहा कि कुछ अनिर्दिष्ट हिस्से प्रभावित हुए हैं, लेकिन डेक का बड़ा हिस्सा बच गया है क्योंकि मरम्मत के दौरान उन्हें हटा लिया गया था। 

आपके विचार

 
 

View Comments (0)