शानदार कार्यक्रम के साथ कल से प्रारंभ होगा 49वां भारत अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई)

भारत का 49वां अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) शानदार कार्यक्रम के साथ कल से गोवा में प्रारंभ होगा। उद्घाटन समारोह में सिनेमा की विभिन्न शैलियों के माध्यम से न्यू इंडिया की थीम को दिखाया जाएगा। 90 मिनट के शानदार उद्घाटन कार्यक्रम में भारतीय फिल्म विरासत और उद्योग के समृद्ध और विविध तत्वों और कहानियों को शामिल किया जाएगा। रंगारंग उद्घाटन समारोह में इतिहास, एक्शन तथा रोमांस की थीम को दिखाया जाएगा। दर्शक बॉलीवुड के कलाकारों का भव्य प्रदर्शन देख पाएंगे। सोनू सूद एक्शन मूड में होंगे, शिल्पा राव रोमांटिक अदाकारी प्रस्तुत करेंगी और डांसर मनमोहक नृत्य पेश करेंगे। उद्घाटन समारोह में गोवा की राज्यपाल श्रीमती मृदुला सिन्हा, केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौड़, गोवा के लोक निर्माण मंत्री श्री सुदीन माधव धावलीकर तथा फिल्म प्रमाणन अपीली इब्यूनल के अध्यक्ष श्री प्रसून जोशी उपस्थित रहेंगे। इसके अतिरिक्त नामी हस्तियां समारोह को आकर्षक बनाएंगी। इन हस्तियों में अक्षय कुमार, करण जौहर, जूलियन लैनडाइस, रिसिता भट्ट, मधुर भंडारकर, सुभाष घई, अरिजीत सिंह, रमेश शिप्पी तथा चिन हैन शामिल हैं। उद्घाटन समारोह गोवा के श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम में शाम 4.30 बजे शुरू होगा। दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर 4.30 बजे से उद्घाटन समारोह का लाइव प्रसारण होगा और youtube.com/pibindia के यूट्यूब चैनल पर भी लाइव दिखाया जाएगा। अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा ज्यूरी के अध्यक्ष और पोलैंड के निर्देशक राबर्ट ग्लिन्सकी भी अपना विचार व्यक्त करेंगे। इस अवसर पर ज्यूरी के अन्य सदस्य एड्रीयन सितारू, एन्ना फेराइओली रैवेल, टॉम फिट्ज पैट्रिक्स तथा भारतीय सदस्य राकेश ओमप्रकाश मेहरा उपस्थित रहेंगे।

आईएफएफआई 2018 से आशा

भारतीय पैनोरमा ज्यूरी द्वारा 26 फीचर और 21 गैर फीचर फिल्में प्रदर्शन के लिए चुनी गई हैं। देश के विभिन्न भागों से फिल्मकारों ने सैकड़ों प्रविष्ठियां भेजीं थी। फीचर फिल्म ज्यूरी ने भारतीय पैनोरमा 2018 की ओपनिंग फीचर फिल्म के रूप में शाजी एन करूण निर्देशित फिल्म ओलू का चयन किया है। गैर फीचर फिल्म ज्यूरी ने भारतीय पैनोरमा 2018 की ओपनिंग गैर फीचर फिल्म के रूप में आदित्य सुहास जंभाले निर्देशित फिल्म खरवास का चयन किया।49वें भारत अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में 68 से अधिक देशों की 212 फिल्में दिखाई जायेंगी। इससे रूचि की विविधता झलकती है। अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धा में 15 फिल्मों में से 3 फिल्में भारतीय हैं। स्पर्धा वर्ग में 22 देशों का फिल्म निर्माण और सह-निर्माण है।49 आईएफएफआई में फोकस देश इज्राइल होगा। कंट्री फोकस पैकेज के लिए मुम्बई स्थिति इज्राइल के कोनसुलेट जनरल के सहयोग से 10 फिल्में चुनी गई हैं। कंट्री फोकस वर्ग में ओपनिंग फिल्म अवि नेशेर की ‘द अदर स्टोरी’ होगी। 49वें आईएफएफआई 2018 के लिए स्टेट फोकस वर्ग का प्रस्ताव भी किया गया है। इस वर्ग में भारतीय राज्यों की फिल्मों पर फोकस किया जाएगा और एक राज्य विशेष की कला और संस्कृति पर प्रकाश डाला जाएगा। 49वें आईएफएफआई 2018 के लिए फोकस राज्य झारखंड है और 24 नवम्बर, 2018 को समारोहों के हिस्से के रूप में झारखंड दिवस मनाया जाएगा। झारखंड पैकेज की फिल्मों में डेथ इन द गंज, रांची डायरिज, बेगम जान तथा अन्य फिल्में हैं।एनीमेशन फिल्म पैकेज के लिए एक वर्ग है जिसमें भारतीय स्टूडियों के सहयोग से तैयार लगभग 3 अंतर्राष्ट्रीय फीचर लेन्थ फिल्में दिखाई जायेंगी।फिल्म समारोह के दौरान खुले स्थान पर बड़े स्क्रीन पर फिल्में दिखाई जाएंगी। खेलो इंडिया ब्रांड के विस्तार के रूप में 49वें आईएफएफआई में भारतीय खेल हस्तियों पर बनी फिल्में दिखाई जायेंगी। इन फिल्मों में गोल्ड, मैरीकॉम, भाग मिल्खा भाग, 1983, एमएसडी : द अनटोल्ड स्टोरी एंड सूरमा शामिल हैं। मास्टरकलास और इन कनवरसेशन में जानी-मानी फिल्म हस्तियां भाग लेंगी। इन हस्तियों में प्रसून जोशी, डैन ओलमैन, श्रीकर प्रसाद, अनिल कपूर, सुमित इसरानी, बोनी कपूर, अर्जुन कपूर, जाह्नवी कपूर, डेविड धवन, वरूण धवन, रोहित धवन, जयराज, कौशिक गांगुली, शाजी करूण, श्रीजीत मुखर्जी, श्रीधर, श्रीराम राघवन, अनुपमा चोपड़ा, भावना सोमाया, जयसन हैफोर्ड, मेघना गुलजार, लीना यादव तथा गौरी शिंदे शामिल हैं। श्रद्धांजलि वर्ग में दिवंगत फिल्म हस्तियों को श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। स्वर्गीय श्री शशि कपूर, स्वर्गीय श्रीमती श्रीदेवी, स्वर्गीय श्री एम करूणानिधि तथा स्वर्गीय कल्पना लाजमी को श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। टेरेंस मार्श, मिलोस फोरमैन तथा ऐनेवी कोट्स को अतंरराष्ट्रीय श्रद्धांजलि दी जाएगी। दृष्टि बाधित बच्चों के लिए विशेष पैकेज है। इस वर्ग में बच्चों को ‘शोले’ तथा ‘हिचकी’ फिल्म भी दिखाई जाएगी। 49वें आईएफएफआई फिल्म समारोह में टयूनिशिया की फिल्म को विशेष रूप से प्रदर्शित किया जाएगा।

आपके विचार

 
 

View Comments (0)