छत्तीसगढ़ चुनाव का दूसरा चरण में 71.93 प्रतिशत हुआ मतदान

नई दिल्ली। एजेंसी

 छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण का मतदान मंगलवार को संपन्न हो गया। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में शाम 6 बजे तक 71.93 फीसदी वोटिंग प्रतिशत रिकॉर्ड किया गया। पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की लंबी कतार दिखी. प्रदेश के तमाम बड़े नेताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। कांग्रेस और अजीत जोगी ने जीता का दावा किया है तो दूसरी ओर एक बार फिर कांग्रेस ने ईवीएम मशीन को निशाने पर लिया. दिल्ली तक चुनाव आयोग से शिकायत की गईछत्तीसगढ़ में दूसरे चरण की वोटिंग में वोटरों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. अंबिकापुर के केदारपुर पोलिंग बूथ पर बड़ी तादाद में लड़कियों ने कतार में खड़े होकर अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया तो प्रदेश की राजनीति में बड़े चेहरे भी अपना वोट डालते नजर आए. राज्य के सीएम रमन सिंह ने कवर्धा में अपना वोट डाला, हालांकि रमन सिंह खुद राजनांदगांव से चुनाव लड़ते हैं जहां पहले चरण में वोटिंग हो चुकी है. राज्य में कांग्रेस के बड़े चेहरे और प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने दुर्ग में अपना वोट डाला. अजीत जोगी ने भी अपने बेटे अमित जोगी के साथ बिलासपुर में वोटिंग की.

मुख्यमंत्री रमन सिंह, उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों, भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडेय, राजनांदगांव लोकसभा के सांसद अभिषेक सिंह, विधानसभा में विपक्ष के नेता टी एस सिंहदेव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने अपने अपने क्षेत्रों में मतदान किया। वोटिंग के बाद सीएम रमन सिंह ने दावा किया है. कि दूसरे चरण की 72 में से 50 सीटों पर बीजेपी जीतेगी. वहीं बीएसपी से गठबंधन कर राज्य में एक मजबूत थर्ड फ्रंट बनाने वाले अजीत जोगी का दावा है कि माहौल उनके पक्ष में रहा है. उधर कांग्रेस के भी अपने दावे हैं.. लेकिन साथ ही एक बार फिर ईवीएम मशीन कांगेस के निशाने रही. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस अध्यक्ष ने मीडिया के सामने ईवीएम की खराबी की शिकायत की तो दिल्ली में उसी शिकायत के साथ राज्य के प्रभारी पीएल पुनिया चुनाव आयोग के दर पर पहुंच गए। 

जांच तो चलती रहेगी लेकिन फिलहाल छत्तीसगढ़ में 2018 का चुनाव खत्म हो चुका है. राज्य के कई बड़े चेहरे की किस्मत का फैसला मतदाताओं ने सुना दिया है जिनमें अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी, छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंहदेव, 5 पार्टियों के प्रदेश अध्यक्षरमन सिंह सरकार के 9 मंत्री और पूर्व डीएम ओ पी चौधरी शामिल हैं। दूसरे चरण में जिन 72 सीटों पर चुनाव हुए. 2013 के चुनाव में इन 72 सीटों में से बीजेपी 43 सीटों पर जीती थी जबकि कांग्रेस के पास 27 सीटें थी. 

राज्य में मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने यहां बताया कि सुबह आठ बजे राज्य के 19 जिलों के 72 विधानसभा सीटों में मतदान शुरू हुआ और शाम पांच बजे मतदान खत्म हो गया. दूसरे चरण में 1079 उम्मीदवारों निर्वाचन में भाग लिया जिसमें से 113 अनुसूचित जाति और 176 अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवार शामिल हैं. इसमें 119 महिला उम्मीदवार भी शामिल हैं। अधिकारियों ने बताया कि दूसरे चरण में कुल मतदान केन्द्रों की संख्या 19336 है. इसमें संवेदनशील मतदान केन्द्र 444 और संगवारी (मित्र) मतदान केन्द्र 118 हैं. संगवारी मतदान केंद्रों में मतदान दल की सभी सदस्य महिलाएं हैं. आज हुए मतदान में कुल मतदाताओं की संख्या 1,54,00,596 है. इसमें पुरूष मतदाता 77,53,337 और महिला मतदाता 76,46,382 हैं. वहीं थर्ड जेंडर के 877 मतदाता हैं। मतदान संपन्न कराने के लिए 84688 मतदान कर्मियों को नियुक्त किया गया है. शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये गए थे. अर्धसैनिक बलों और पुलिस के लगभग डेढ़ लाख जवानों को तैनात किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि दूसरे चरण में 72 सीटों में से 17 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए तथा नौ अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने इन 72 सीटों में से 43 सीटों में जीत हासिल की थी. वहीं कांग्रेस को 27 तथा बहुजन समाज पार्टी को एक सीट पर जीत मिली थी जबकि एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार की जीत हुई थी.

आपके विचार

 
 

View Comments (0)