चुनावी रैली में राहुल गांधी ने मोदी पर निकाली भड़ास

नई दिल्ली। श्रीजी एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क

राहुल गांधी ने एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 2014 में नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने, उससे थोड़ी देर पहले वसुंधरा जी चीफ मिनिस्टर बनीं थी। अपने हर भाषण में नरेन्द्र मोदी ने अनेक वायदे किए थे। यहाँ हजारों युवा खड़े हैं, आपसे उन्होंने कहा था, साफ कहा था, एक बार नहीं, 10-15-20 बार कहा था कि हर साल नरेन्द्र मोदी दो करोड़ युवाओं को रोजगार देगा। हर साल नरेन्द्र मोदी स्वयं दो करोड़ युवाओं को रोजगार देगा। मैं राजस्थान के युवा से पूछना चाहता हूँ कि क्या देश के प्रधानमंत्री ने आपको धोखा दिया? हाँ या न (युवाओं ने कहा, हाँ)। आपको कहा कि दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देंगे, वसुंधरा जी ने उनके ही जैसे बोला, हाँ रोजगार देंगे, तो मैं पूछना चाहता हूँ, अगर आपने रोजगार दिया तो हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार अलवर में चार युवाओं ने सामूहिक आत्महत्या क्यों की?

शेम-शेम के नारों के बीच श्री गांधी ने कहा कि आप मुझे ये समझाइए, आप हर रोज अनिल अंबानी को फोन करते हो, क्या आपने उनके घर में फोन किया? क्या आपने उनके परिवारों को बोला कि हाँ, मैंने गलती की, माफी मांगी क्या आपने उनसे? न। युवा के दिल में दर्द है, दु:ख है और सिर्फ राजस्थान के युवाओं के दिल में नहीं, हिंदुस्तान के हर युवा के दिल में दर्द है कि मेरे देश में मुझे रोजगार नहीं मिल सकता है, मेरे प्रधानमंत्री ने एक के बाद एक, एक के बाद एक, एक के बाद एक भाषण में मुझे बोला था कि मैं रोजगार दिलवाऊँगा, मैं रोजगार दिलवाऊँगा, मैं रोजगार दिलवाऊँगा और जब प्रधानमंत्री बने तो किसी और की चौकीदारी की।

हर भाषण में देखिए, हर भाषण में नरेन्द्र मोदी कहते हैं, भारत माता की जय। आपने सुना है, हर भाषण में नरेन्द्र मोदी जी कहते हैं, भारत माता की जय। तो ये भारत माता है क्या? ये भारत माता हमारा पूरा देश है, भारत माता ये किसान हैं, भारत माता, देश के करोड़ों युवाओं के अंदर भावना है, भारत माता, हमारी माताएं और बहनें हैं, भारत माता ये मजदूर हैं, भारत माता हम सबको मिलाकर देश है। अब मैं ये पूछना चाहता हूँ, हर भाषण में कहते हैं, भारत माता की जय और काम करते हैं अनिल अंबानी के लिए। भाषण में शुरुआत करनी चाहिए, अनिल अंबानी की जय, मेहुल चोकसी की जय, नीरव मोदी की जय, ललित मोदी की जय। अगर आप भारत माता की बात करते हैं तो आपने किसानों को कैसे भूला? आपने साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए 15 लोगों का माफ किया है। मगर अलवर के किसानों का आपने एक रुपया माफ नहीं किया। क्या ये भारत माता नहीं है? क्या इनका खून, इनका पसीना भारत माता को नहीं बनाता है? क्या दिनभर ये जो काम करते हैं, कुर्बानी देते हैं, क्या इनकी इस देश में कोई जगह नहीं होनी चाहिए?

भाईयों और बहनों, मैं नरेन्द्र मोदी के ऑफिस में एक बार गया हूँ, दूसरी बार नहीं गया, क्योंकि मैं बात समझ गया। मैं एक बार गया था, ऑफिस में गया और मैंने उनसे कहा, देखिए मोदी जी, देश में किसान आत्महत्या कर रहा है, किसी भी प्रदेश में आप देख लीजिए, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, किसी भी प्रदेश में देख लीजिए, किसान आत्महत्या कर रहा है। एक तरफ युवा ह्यह्वद्बष्द्बस्रद्ग श्चड्डष्ह्ल कर रहा है, चार के चार युवा एक साथ आत्महत्या कर रहे हैं और दूसरी तरफ किसान आत्महत्या कर रहा है। और मैंने नरेन्द्र मोदी जी से कहा देखिए, आपने साढ़े तीन लाख करोड़ रुपया उनका माफ किया है, 15 लोगों का मैं नहीं समझता क्यों किया? मगर आप एक काम करो, आपके कमरे में राहुल गांधी नहीं बैठा है, आपके कमरे में राहुल गांधी भारत के किसान की भावना लाया है, किसान की सोच लाया है, किसान का दर्द लाया है। आप मेरी बात भले ही मत सुनिए, भले ही आप मेरी बात मत सुनिए, मगर आप, जो किसान कह रहे हैं उसको सुनिए और थोड़ा सा पैसा किसान का कर्जा माफ कर दीजिए। अलवर के प्याज के किसान का कर दीजिए, उत्तर प्रदेश के गन्ने के किसान का कर दीजिए, आलू के किसान का थोड़ा सा कर्जा माफ कीजिए, भाईयों और बहनों देखिए, नरेन्द्र मोदी जी का जवाब देखिए, मैंने उनसे कहा, किसानों को आप कर्जा माफ कीजिए, नरेन्द्र मोदी का जवाब देखिए, (चुप्पी)। मुँह से एक शब्द नहीं निकला, मगर दिल में भावना थी, इसमें कैसे हिम्मत हुई कि एक किसान की बात हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री के ऑफिस में लेकर कैसे आ गया? मोदी जी कांग्रेस पार्टी वाले आपसे डरते नहीं हैं, हम एक इंच भी पीछे हटने वाले नहीं हैं। हिंदुस्तान के किसान का कर्जा माफ करना पड़ेगा।

 

देखिए, मैंने साफ कह दिया है, नरेन्द्र मोदी जी को, कि राजस्थान की सरकार, मध्य प्रदेश की सरकार, छत्तीसगढ़ की सरकार जवाब देगी। जैसे ही यहाँ कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी, गारंटी कहकर बोल रहा हूँ, मैं 15 लाख वाले वायदे नहीं करता हूँ, झूठ नहीं बोलता हूँ, 10 के अंदर अलवर के, राजस्थान के किसान का कर्जा हम माफ करके दिखा देंगे। भारत माता की जय का ये मतलब है कि जो भारत माता को खड़ा करता है, बनाता है, अपना खून-पसीना देता है, उसकी जय होनी चाहिए। आपने बैंक के दरवाजे 15 लोगों के लिए खोल रखे हैं और ये जो माताएं-बहनें आई हैं, इनको आप कुछ नहीं देते हो, उल्टा इनके घरों में से आपने पैसा लूटा। आपने कहा था, पूरे देश से आपने कहा था, कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़नी है। माताएं-बहनें आपको याद है? मोदी जी ने कहा था न ? कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़नी है, याद है आपको? याद है न? आप सब लाईन में खड़े थे न बैंक के सामने, अलवर में लाईन लगी थी न, याद है आपको? भाईयों और बहनों आपने लाइन में विजय माल्या को देखा?(जनता ने कहा, नहीं,), नीरव मोदी (जनता ने कहा, नहीं,), अनिल अंबानी (जनता ने कहा, नहीं,), ललित मोदी, (जनता ने कहा, नहीं,) मेहुल चोकसी, (जनता ने कहा, नहीं,), तो कैसी कालेधन की लड़ाई थी? कालेधन के खिलाफ लड़ाई नहीं थी, भाईयों और बहनों, लड़ाई कालेधन को सफेद करने की थी और लड़ाई आपकी जेब में से आपकी मेहनत का, आपकी ईमानदारी का पैसा लेकर नीरव मोदी की जेब में, अनिल अंबानी की जेब में, ललित मोदी की जेब में डालने की थी।

आपने देखा होगा, नोटबंदी के कुछ ही दिनों बाद 35 हजार करोड़ रुपए नीरव मोदी ले गया, मेहुल चोकसी ले गया, विजय माल्या जाने से पहले अरुण जेटली से मिलता है, कहता है, गुडबाय, मैं जा रहा हूँ, लंदन। अरुण जेटली जी कहते हैं, हाँ जी, नमस्कार आप जाईए, बोर्डिंग पास पकड़ा दिया, कहा चलिए, आप जाइए, हवाई जहाज में जाईए, लंदन में मजा लीजिए, कालेधन के खिलाफ लड़ाई है। भाईयों और बहनों पहले नारा हुआ करता था और राजस्थान के युवाओं आप अच्छी तरह सुनो, पहले नारा हुआ करता था, अच्छे दिन। मोदी जी कहते थे, अच्छे दिन, जनता कहती थी, आएंगे। अलवर के युवाओं अब एक नया नारा चला है, अब एक नया नारा चला है, सुनो, चौकीदार, (जनता ने कहा, चोर है,) चौकीदार, (जनता ने कहा, चोर है,), चौकीदार, (जनता ने कहा, चोर है,)। अब ये क्यों हुआ? मैं आपको बताता हूँ, ये कैसे हुआ? क्यों हुआ?

यूपीए की सरकार, वायुसेना के लोग आते हैं, कहते हैं, देखिए, हवाई जहाज की जरुरत है, 126 हवाई जहाज चाहिए, एयर फोर्स के लिए चाहिए। मनमोहन सिंह जी कहते हैं, ठीक है, मनमोहन सिंह जी कहते हैं, ठीक है, भईया। एयर फोर्स का मामला है, सबसे अच्छा हवाई जहाज चुनो। पूरी दुनिया में ढूँढो और जो आपको अच्छा लगे आप खरीदो, 126 हवाई जहाज खरीदो। एयर फोर्स के लोगों ने आठ साल काम किया, आठ साल काम किया, राफेल फ्रांस का हवाई जहाज चुनते हैं। मनमोहन सिंह जी के पास आए, कहते हैं, भईया, हमने राफेल हवाई जहाज चुना, मनमोहन सिंह जी ने पूछा क्या दाम है इस हवाई जहाज का? एयर फोर्स के लोग कहते हैं, 526 करोड़ रुपए एक हवाई जहाज के लिए। मनमोहन सिंह जी कहते हैं, भईया, एक बात सुनो, हवाई जहाज हिंदुस्तान में बनेगा, हिंदुस्तान के युवा इस हवाई जहाज को बनाएंगे, अलवर में, राजस्थान में, कर्नाटक में फैक्ट्री लगेगी, मध्य प्रदेश में फैक्ट्री लगेगी, दुनिया का सबसे बेहतर हवाई जहाज हिंदुस्तान में बनेगा, एयर फोर्स के लोगों ने कहा बिल्कुल सही बात बोली, बात मंजूर। मनमोहन सिंह जी ने कहा, जाओ, खरीदो।

 मोदी जी की सरकार बनती है, पहला काम नरेन्द्र मोदी जी करते हैं, फ्रांस जाते हैं, हवाई जहाज में जाते हैं, उनके साथ अनिल अंबानी जाता है। अनिल अंबानी कौन है, जिंदगी में हवाई जहाज नहीं बनाया, 45 हजार करोड़ रुपए का कर्जा है, बैंक का पैसा लिया वापस नहीं देता है, आपका पैसा है। नरेन्द्र मोदी जी कहते हैं, फ्रांस के राष्ट्रपति से कहते हैं, देखो, मनमोहन सिंह जी ने जो बात की थी उसको खत्म करो, उसकी कोई जरुरत नहीं है, मैं तुम्हे नई बात बताता हूँ, सबसे पहले हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड सरकारी कंपनी को जो कॉन्ट्रैक्ट दिया, उसको परे करो। दूसरी बात, हवाई जहाज हिंदुस्तान में नही बनाओ, फ्रांस मे बनाओ। तीसरी बात, 126 की जरुरत नहीं है, 36 की जरुरत है और आखिरी बात, 526 करोड़ का एक हवाई जहाज नहीं होगा आप 1,600 करोड़ रुपए मांगो, हिंदुस्तान की सरकार 1,600 करोड़ रुपए देगी। अब ये राहुल गांधी नहीं बोल रहा आपसे, ये फ्रांस के राष्ट्रपति ने दुनिया की मीडिया को बताया है। फ्रांस के राष्ट्रपति ने बोला है, राजस्थान के युवाओं, फ्रांस के राष्ट्रपति ने बोला है कि नरेन्द्र मोदी जी ने उन्हें साफ बोला 1,600 करोड़ रुपए का हवाई जहाज खरीदा जाएगा, अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिया जाएगा, फ्रांस में बनेगा। आप इंटरनेट पर जाओ, राजस्थान के सब युवाओं, इंटरनेट पर जाओ, फ्रांस के राष्ट्रपति का नाम लिखो, राफेल हवाई जहाज का नाम लिखो, उनका बयान सुन लो।

मोदी जी देश की रक्षा की बात करते हैं, आपसे 30 हजार करोड़ रुपए चोरी करके, एयर फोर्स का पैसा चोरी करके अनिल अंबानी की जेब में डाला है, इसलिए अपने भाषण में नरेन्द्र मोदी कहीं भी, आजकल न कहीं भी, किसी भी भाषण में नरेन्द्र मोदी, राफेल के बारे में, भ्रष्टाचार के बारे में एक शब्द नहीं बोल सकते हैं, क्योंकि जैसे ही नरेन्द्र मोदी के मुँह से निकलता है, जनता कहती है, चौकीदार चोर है। उनको डर लगता है, भाईयों और बहनों, उनको डर लगता है, गलती से उन्होंने बात कर दी भ्रष्टाचार की, भाषण के बीच में कोई बोलेगा, चौकीदार चोर है। ये सच्चाई है।

और बताता हूँ आपको, सबसे मजेदार बात और राजस्थान के किसानों आप इसको सुनो। आप हर रोज मेहनत करते हो और फिर आपसे बीमा का पैसा लिया जाता है। आप अपना पैसा बीमा योजना में डालते हो, वो अनिल अंबानी का नहीं है, नरेन्द्र मोदी का नहीं है, आप अपने हाथों को देखो, आपके जो हाथ फटे हैं, आपका जो पसीना है, वो उस पसीने का पैसा है। आप उस पैसे को बीमे के लिए डालते हो और जब आँधी आती है, तूफान होता है, सूखा पड़ता है, बारिश गिरती है तो आप ही का पैसा आपको वापस नहीं मिलता है। आप इसके बारे में सोचो, आपने अपना पैसा दिया, अपनी रक्षा के लिए आपने पैसा दिया और आपका ही पैसा अनिल अंबानी जैसे चोरों को दिया जाता है। मैं समझता हूँ कि उनका कर्जा माफ कर दिया, पता नहीं क्या कारण है, मगर कर दिया। मैं ये भी समझ सकता हूँ कि नरेन्द्र मोदी आपका कर्जा माफ नहीं करना चाहते हैं। हम करेंगे। मगर मैं ये नहीं समझ सकता हूँ कि आपकी मेहनत का पैसा, आपके बीमा का पैसा, वो भी आपसे लूटकर, छीनकर अनिल अंबानी जैसे लोगों को क्यों दिया जाता है।

भाईयों और बहनों, 45 हजार करोड़ रुपए हिंदुस्तान के किसानों का पैसा, फिर से बोलता हूँ, 45 हजार करोड़ रुपए आपका पैसा, हिंदुस्तान के किसान की मेहनत का पैसा आपने बीमा में डाला है, आप जैसे करोड़ों किसानों ने डाला है। 45 हजार करोड़ में से 16 हजार करोड़ रुपए बीमा का पैसा हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों की जेब में गया है। ये बीमा योजना नहीं है, इसको अनिल योजना कहना चाहिए, अनिल अंबानी योजना, मेहुल चोकसी योजना, नीरव मोदी, विजय माल्या योजना, पूरा का पूरा लक्ष्य प्रधानमंत्री का, चीफ मिनिस्टर का, राजस्थान की जनता का पैसा उठाकर इन 15-20 लोगों को दो। युवाओं से कहते हैं, रोजगार देंगे, युवा आत्महत्या करता है। किसानों से कहते हैं, भईया, तुम्हारा कर्जा माफ करेंगे, और फिर उद्योगपतियों का साढ़े तीन लाख करोड़ माफ करते हैं, आपका एक रुपया नहीं करते हैं। बीमा का पैसा आपसे छीनकर बीमा कंपनियों को देते हैं, मोदी जी कहते हैं।

 माताओं से पूछना चाहता हूँ, कांग्रेस पार्टी के समय आपको गैस सिलेंडर कितने का मिलता था? (जनता ने कहा, साढ़े तीन सौ), साढ़े तीन सौ। अब कितने का मिलता है? (जनता ने कहा, हजार) हजार। तो नरेन्द्र मोदी भाषण में कहते हैं, हर महिला को मैंने गैस सिलेंडर दिया, मगर अपने भाषण में ये नहीं कहते हैं कि पहले गैस सिलेंडर साढ़े तीन सौ का मिलता था, अब हजार रुपए का देता हूँ और पहले जो कांग्रेस पार्टी कैरोसीन देती थी वो भी मैंने छीन ली।

देखिए, मोदी जी की सरकार को हिंदुस्तान के सबसे बड़े उद्योगपतियों ने बनाया था। मार्केटिंग उनकी की, टेलीविजन पर उनकी फोटो लगाई, बड़ी-बड़ी मीटिंग के लिए उनको पैसा दिया, उद्योगपतियों ने नरेन्द्र मोदी को हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री बनाया, इसलिए नरेन्द्र मोदी जी ने अनिल अंबानी को 30 हजार करोड़ रुपए दिए, इसलिए नरेन्द्र मोदी ने आपको लाईन में खड़े करके, आपका पैसा लेकर उनका कर्जा माफ किया। मैं आपको साफ बता रहा हूँ, राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने जा रही है। राजस्थान की सरकार को कोई उद्योगपति नहीं बना रहा है, राजस्थान की सरकार को किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार बनाने जा रहे हैं।

कांग्रेस पार्टी की जैसे ही सरकार आएगी, दो-तीन चीजें हम शुरु करेंगे, 10 दिन के अंदर कर्जा माफ तो पहले होगा ही होगा और हम कर क्यों रहे हैं, बता रहा हूँ। हम आपको भईया, किसानों को हम कोई तोहफा नहीं दे रहे हैं, आप ये मत समझो कि कांग्रेस पार्टी राजस्थान के, अलवर के किसानों को कोई तोहफा दे रही है। न, कोई तोहफा नहीं दिया जा रहा है। ये आपका पैसा है, आपका पैसा वापस आपको दिया जा रहा है, पहली बात और आपको इसलिए दिया जा रहा है, आप गलतफहमी में मत आओ आपको इसलिए दिया जा रहा है, क्योंकि हम आपका आदर करते हैं, हम इस बात को समझते हैं कि आप हर रोज, दिनभर इस देश को बनाने का काम करते हो। इसलिए आपका जो हक है, आपको हम देने वाले हैं, उसके बाद हर जिले में, हर ब्लॉक में, हम फूड प्रोसेसिंग का प्लांट लगाएंगे, फैक्ट्री लगाएंगे। जहाँ आप आलू उगाते हो, वहाँ आलू के चिप्स की फैक्ट्री, जहाँ टमाटर उगाते हो, वहाँ कैचअप की फैक्ट्री। जहाँ पर आप प्याज उगाते हो, प्याज को प्रोसेस करने की फैक्ट्री, जहाँ सोयाबीन उगाया जाता है, वहाँ सोयाबीन के तेल की फैक्ट्री। हम पूरा जाल बिछा देंगे राजस्थान में फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री का। उस फैक्ट्री में, राजस्थान के अलवर के किसान जाकर सीधा अपना प्याज बेचेंगे और उनको सही दाम मिलेगा और फिर आप देखना, फैक्ट्री में आप देखना, अलवर के युवाओं को, राजस्थान के युवाओं को उसी फैक्ट्री में रोजगार मिलेगा।

राजस्थान में, हर डिस्ट्रिक्ट में आप कुछ न कुछ करते हो, टूरिज्म, हैंडीक्राफ्ट्स हीरों का काम, हर डिस्ट्रिक्ट में कुछ न कुछ आपके पास ज्ञान है, मगर बैंक का पूरा का पूरा पैसा नरेन्द्र मोदी ने 15 लोगों को दे रखा है। राजस्थान की सरकार शुरुआत करेगी, बैंक के दरवाजे किसानों के लिए खोलेगी पहला कदम।

दूसरा कदम के बारे में अब मैं आपको उदाहरण देता हूँ। देखिए, आपका नाम क्या है, (भीड़ में से एक व्यक्ति का नाम पूछते हैं, व्यक्ति ने अपना नाम बताया, रूप सिंह) रुप सिंह। अब देखिए, रुप सिंह जी आप खड़े हो जाईए, अब रुप सिंह जी हैं, अलवर के, राजस्थान के युवा हैं। अब देखिए, नरेन्द्र मोदी ने नीरव-चोकसी को नीरव भाई कहते हुए 35 हजार करोड़ रुपए बैंक का दिलवाया। इंकम टैक्स डिपार्टमेंट ने नीरव मोदी के भागने से सात महीने पहले नरेन्द्र मोदी जी को, सरकार को रिपोर्ट दे दी थी, भईया, ये चोर है, भागने जा रहा है। मोदी जी ने उसको भागने दिया, (भीड़ में खड़े रुप सिंह की ओर इशारा करते हुए श्री गांधी ने कहा) रुप सिंह जी मैं आपसे पूछना चाहता हूँ, नीरव मोदी ने 35 हजार करोड़ रुपए लेकर अलवर के, राजस्थान के, हिंदुस्तान के कितने युवाओं को रोजगार दिया?  (जनता ने कहा, एक भी नहीं) एक भी नहीं। अब रुप सिंह जी, अगर आपको 35 हजार करोड़ रुपए छोड़ो, अगर आपको 15 लाख रुपए का बैंक लोन दे दिया गया होता, क्या आप नीरव मोदी से ज्यादा रोजगार पैदा कर सकते थे, हिंदुस्तान में? कर सकते थे? कर देते, बस। रुप सिंह जैसे लाखों युवाओं को कांग्रेस पार्टी बैंक के दरवाजे खोलकर लोन देगी और ये जो ईमानदार युवा है, ये चोर नहीं है, रुप सिंह चोर नहीं है, रुप सिंह ईमानदार है, नीरव मोदी, अनिल अंबानी चोर है। तो रुप सिंह जी जैसे लाखो युवाओं को राजस्थान में बैंक के दरवाजे खोलकर एक के बाद एक, एक के बाद एक, एक के बाद एक, हम बैंक लोन देंगे और राजस्थान में इस प्रकार से हम रोजगार पैदा करेंगे।

भाईयों और बहनों, घबराईए मत। आपको आज वसुंधरा जी की सरकार में, मोदी जी की सरकार में भविष्य नहीं दिखाई देता, आप घबराते हो, आप कहते हो, हमें मालूम नहीं क्या होगा? किसान कहता है, कल के बारे में हमें नहीं मालूम, युवा कहता है, आत्महत्या करने की जरुरत है क्योंकि हमें कल का नहीं पता लग रहा। आप घबराओ मत, राजस्थान की जनता, आप घबराओ मत, आपमें इतनी शक्ति है, पूरी दुनिया आपको नहीं रोक सकती है। आप अपनी शक्ति को पहचानों, आप अपने ज्ञान को पहचानो, आप अपनी ऊर्जा को पहचानो। पूरी दुनिया आपकी ऊर्जा को पहचानती है।

अमेरिका का राष्ट्रपति कहता है, हमें चैलेंज सिर्फ हिंदुस्तान और चीन कर सकता है। कांग्रेस पार्टी आपके साथ मिलकर राजस्थान का भविष्य बनाएंगे, एक साथ मिलकर हम काम करेंगे और आप सुनिए, हम आप पर अपने मन की बात नहीं थोपेंगे। न मैं थोपूँगा, न राजस्थान के नेता। हम मन की बात नहीं कहेंगे आपसे, हम आपके पास आएंगे, किसानों के खेत में जाएंगे, आपका हाथ पकड़ेंगे, कहेंगे भईया, भाई, बताओ, मन की बात बताओ। युवाओं के पास जाएंगे, बेरोजगार युवा के पास जाएंगे, कहेंगे भईया बताओ, मन की बात बताओ, क्या चाहते हो? क्या करे आपके लिए, आपकी सरकार, बताओ?  हमारी सरकार के दरवाजे आपके लिए खुले मिलेंगे।

आपकी चीफ मिनिस्टर किसी से नहीं मिलती, हवाई जहाज में उड़ती है। गहलोत जी ने मुफ्त दवाई देने का काम किया था, याद रखिए, मुफ्त में दवाई देने का काम किया था। कांग्रेस पार्टी ने मनरेगा दिया, भोजन का अधिकार दिया, कर्जा माफी की, मुफ्त में दवाई दी। हम आपके लिए काम करते हैं, नीयत साफ है भईया, नीयत साफ है। हम जो कहते हैं, हम कर डालते हैं। आपका जो पैसा है, जो आज आपने ललित मोदी का नाम सुना है, ललित मोदी नाम सुना है? देखिए, ललित मोदी ने आपका पैसा चोरी किया और 10 करोड़ रुपए ललित मोदी ने डायरेक्ट सीधा मनी ट्रांसफर वसुंधरा जी के बेटे के अकाउंट में डाला। कांग्रेस पार्टी आपका पैसा, सीधा डायरेक्ट मनी ट्रांसफर, पहले किसानों की जेब में, उसके बाद युवाओं की जेब में, उसके बाद आपके अस्पतालों में, आपके कॉलेजेज में, आपकी युनिवर्सिटियों में, आपके स्कूलों में डालेगी और आपको लगेगा कि हाँ भाई, मजा आ रहा है। मैं देश के लिए काम कर पा रहा हूँ, फैक्ट्री में मैं काम करता हूँ, ईमानदार हूँ और नीरव मोदी जैसे चोर, ललित मोदी जैसे चोर, अनिल अंबानी जैसे चोरों की सरकार नहीं है, राजस्थान के युवाओं की सरकार है। तो ये मैं आपसे कहना चाहता था।

आपने भरोसा किया नरेन्द्र मोदी जी पर। उन्होंने कहा था, प्रधानमंत्री मत बनाओ, प्रधानमंत्री मत बनाओ, प्रधानमंत्री मत बनाओ, प्रधानमंत्री मत बनाओ, चौकीदार बनाओ। आपने चौकीदार बनाया और चौकीदार ने चौकीदारी अनिल अंबानी की कर दी, नीरव मोदी की कर दी, ललित मोदी की कर दी। आप यहाँ कांग्रेस पार्टी की सरकार बनाओ और वो सरकार आपकी होगी, कांग्रेस के कार्यकर्ता की होगी, गरीब जनता की होगी। सबको एक साथ मिलाकर राजस्थान की सरकार होगी और हम आपसे झूठे वायदे नहीं करेंगे, 15 लाख का वायदा, दो करोड़ रोजगार का वायदा, न। मगर मैं आपको बता रहा हूँ, कांग्रेस पार्टी का चीफ मिनिस्टर 24 घंटे में से 18 घंटे युवाओं के बीच में घूमेगा, युवाओं की बात सुनेगा और युवाओं को रोजगार देने का काम करेगा।

 तो भाईयों और बहनों, कुछ ही दिन बचे हैं, खड़े हो जाईए, विचारधारा की लड़ाई है, कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता, शेर हो आप शेर, बब्बर शेर। जाओ पोलिंग बूथ पर, दिखा दो इनको, कांग्रेस पार्टी क्या है? राजस्थान की जनता क्या है?

आप सबको दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद। माताएं-बहनों, आपको मैं दिल से धन्यवाद करना चाहता हूँ, आपका आदर करता हूँ, आप दूर-दूर से आईं, इसके लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद, नमस्कार।

नमस्कार, अशोक गहलोत जी, सचिन पायलट जी, अविनाश पांडे जी, जितेन्द्र सिंह जी, करण सिंह यादव जी, जुबेर खान जी, इमामुद्दीन अहमद जी, टीकाराम जूली जी, शकुंतला रावत जी, देवेंद्र यादव जी, केशव चंद यादव जी, दीन मोहम्मद जी, नसरु खान जी और हमारे 10 कैंडिडेट्स, कांग्रेस पार्टी के हमारे सब कार्यकर्ता, यूथ कांग्रेस, एनएसयूआई, महिला कांग्रेस, सेवादल के हमारे सब साथी, भाईयों और बहनों, प्रेस के हमारे मित्रों और जो छत पर वहाँ पीछे खड़े हैं और इस तरफ लोग खड़े हैं, आप सबका यहाँ दिल से बहुत-बहुत स्वागत, नमस्कार।

आपके विचार

 
 

View Comments (0)