बिना सुरक्षा कवच में ढोई जा रही लोहे की चादर

0
140

डिबाई(श्रीजी एक्सप्रेस)। कोतवाली क्षेत्र में लोहे की चादरों से टकराने के बाद गर्दन करने से हुई किशोर की मौत के बाद भी नगर की सड़कों पर वाहनों में लोहे की चादरों को बिना किसी सुरक्षा कवच के ढोया जा रहा है।
गौरतलब है कि गत दिवस डिबाई कोतवाली क्षेत्र में हाइवे पर डग्गामार वाहन में लदी लोहे की चादरों से टकराने के बाद मोपेड सवार एक किशोर की गर्दन कटने पर दर्दनाक मौत हो गयी थी। किशोर की मौत के बाद गुस्साये लोगों ने हाइवे पर जाम भी लगा दिया था। प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया था कि यदि लोहे की चादरों के चारों ओर किसी प्रकार की कवच लगाया होता तो शायद किशोर की जान बच सकती थी। हादसे के बाद पुलिस सबक लेने के तैयार नही है। नगर में आज भी वाहनों में लोहे की चादरों को बिना किसी सुरक्षा कवच से ढोया जा रहा है। लोहे की चादर ढोने वाले भी पूर्ण लापरवाही बरत रहे है। जिससे हादसे होने का भय हमेशा बना रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here