उड़त गुलाल, लाल भये बदरा

0
351

रंगभरनी एकादशी पर उमड़ा आस्था का सेलाब
कृपा रूपी रंग पाने को श्रद्धालु दिखे लालायित।

वृंदावन,मथुरा (श्रीजी एक्सप्रेस)। अपने आराध्य ठाकुर बांके बिहारी की आल्हादिनी शक्ति श्री राधा रानी को होली पर्व पर रंग गुलाल भेंट कर बृज की होली के आनंद में सराबोर होने आए हजारों देशी-विदेशी श्रद्धालुओं के आगमन का प्रत्यक्ष बना श्रीधाम वृंदावन का कण कण रंगभरनी एकादशी पर आल्हादित हो उठा। अबीर गुलाल व हरे नीले, पीले रंगों से मदमस्त श्रद्धालुओं ने अपने आराध्य के साथ होली खेल कर ब्रज में होली का शुभारंभ किया। हालांकि ब्रज में होली महोत्सव का शुभारंभ बसंत ऋतु के साथ बसंत पंचमी पर्व से शुरू हो जाता है, जिसके साथ ही होली का डाणा भी गाड़ दिया जाता है और भक्त उसी दिन से ही अपने आराध्य के कृपा रूपी अबीर गुलाल व केसर रंग में रंगने के लिए होली महोत्सव का आनंद लेते रहते हैं। जिस नजारे को देख लाखों श्रद्धालु आराध्य के रंग में रंगने को सराबोर होते दिखाई दिए। प्रातः काल से ही जन जन के आराध्य ठाकुर बांके बिहारी मंदिर ठाकुर राधा वल्लभ मंदिर सहित सप्त देवालय आदि प्रमुख मंदिरों में अपने आराध्य के साथ होली खेलने के लिये ग्वाल बाल स्वरूप हजारों देशी विदेशी भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा।मंदिर में चहुओर हरा, नीला ,लाल, गुलाबी ,गुलाल उड़ता हुआ दिखाई दे रहा था। कमर में फेटा बांधे ठाकुर बांके बिहारी भी अपने भक्तों की इस अद्भुत आस्था भरी होली देखकर मन ही मन प्रसन्न हो रहे थे। सेवायत गोस्वामियों ने भी श्रद्धालुओं पर थाल भर भरकर गुलाल फेंका जिसका एक एक कण पाने के लिये श्रद्धालु खासे लालायित दिखाई दिये। वहीं सायं काल ठाकुर बांके बिहारी लाल चांदी के सिंहासन पर विराजमान होकर भक्तों पर सोने व चांदी के पिचकारियों से कृपा बरसाने लगे। यही नजारा ठाकुर राधावल्लभ मंदिर समेत अन्य प्रमुख मंदिरों में भी दिखाई दिया। वही प्रातः काल से ही हजारों कि संख्या में श्रद्धालुओं की टोलियां नगर की पंचकोसीय परिक्रमा के लिये निकल पड़े। जिसके चलते सम्पूर्ण मार्ग हरे, पीले, नीले, लाल गुलाबी, रंगों से रंगा नजर आया। वहीं दूसरी ओर परिक्रमा मार्ग स्थित पानी घाट के समीप मित्र मंडल सेवा समिति द्वारा परिक्रमार्थियों की सुविधार्थ शीतल जल प्याऊ लगायी गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here